Latest News

Atal Pension Yojana 2022: करोड़ों लोग होंगे मालामाल, अब सरकार से हर महीने मिलेंगे ₹5000 पेंशन जानिए डिटेल्स

Atal Pension Yojana 2022
Atal Pension Yojana 2022

Atal Pension Yojana : भारत सरकार द्वारा 2015 में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अटल पेंशन योजना लागू करने की घोषणा की थी। यह योजना उन लोगों के लिए शुरू की गई है. जो असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं. वहां के गरीब मजदूरों को आर्थिक सहायता पहुंचाने के लिए सरकार द्वारा योजना का क्रियान्वयन किया गया. यह योजना प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉन्च की गई थी. हम अपने इस लेख में अटल पेंशन योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दे रहे है। आइए जानते हैं, योजना के बारे में.

हमारे Telegram चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें : Click Here

Atal Pension Yojana : अटल पेंशन योजना मोदी सरकार द्वारा चलाई जा रही लोकप्रिय स्कीम है. यह गरीब तबके के लोगों को बुढ़ापे में सहारा देने वाली स्कीम है. इसमें आवेदक को 18 साल से लेकर 42 साल की उम्र तक निवेश करना होगा. इसके लिए सरकार की ओर से भी कुछ सहायता राशि प्रदान की जायेगी. अगर आपकी उम्र 18 से ज़्यादा है तब भी आप इसका फ़ायदा उठा सकते हैं। नियम यह है कि पेंशन पाने के लिए आपको कम से कम 20 साल तक निवेश करना होगा। फिर जब वह आवेदक 60 साल का हो जाएगा. तब हर महीने 1000 से 5000 तक की राशि पेंशन के रूप में प्रदान की जायेगी.

हमारे WhatsApp Group से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें : Click Here

Atal Pension Yojana : आवेदक अपनी आय/ सहूलियत अनुसार मंथली, तिमाही और छमाही निवेश कर सकते हैं. अगर कोई आवेदक 18 साल की उम्र से निवेश करता है तो उसे हर महीने 210 रुपये की प्रीमियम राशि देनी होगी. वहीं, अगर वह यही प्रीमियम राशि हर तीन महीने में देता है, तो 626 रुपये और छह महीने में एक बार देता है तो 1,239 रुपये देने होंगे. इसके अलावा हर महीने न्यूनतम 1000 रुपये की पेंशन राशि पाने के लिए 18 साल की उम्र से सिर्फ और सिर्फ 42 रुपये जमा करने होंगे. यदि 42 साल में आपके कुल निवेश की राशि 1.04 लाख रुपये होगी तो 60 साल के बाद आपको हर महीने 5000 रुपये की पेंशन मिलेगी.

अगर 60 साल के पहले आवेदक की मृत्यु हो गई तो पेंशन का क्या होगा

अगर किसी कारणवश 60 साल की आयु तक पहुंचने से पहले ही आवेदक की मृत्यु से पहले हो जाती है तो इस अटल पेंशन योजना का पैसा उसकी पत्नी को दिया जाएगा। अगर किसी कारण पति और पत्नी दोनों की ही मृत्यु हो जाती है तो पेंशन का पैसा नामांकित नागरिक दिया जाएगा।

  • इस योजना का उद्देश्य असंगठित क्षेत्र के परिवारों को मजबूती प्रदान करना है जिससे उनके बुढ़ापे में कुछ मदद हो सकें और वे आत्मनिर्भर बन सकें.
  • इस पेंशन योजना के तहत असंगठित क्षेत्र में रहने वाले गरीब परिवारों के लिए 1,000 रुपये से 5,000 रुपये प्रति माह के बीच न्यूनतम मासिक पेंशन दी जाती है।
  • इस योजना का पति और पत्नी दोनों को लाभ उठाने के लिए उनकी उम्र 18 से 40 साल के बीच होनी चाहिए.
  • केंद्र सरकार द्वारा भी आवेदकों के योगदान का 50% या 1,000 रुपये प्रति वर्ष (शुरुआत के कुछ साल तक) जमा किया जाता है.
  • इस योजना के अंतर्गत 60 वर्ष की आयु के बाद दंपत्ति के लिए 10,000 रुपये प्रति माह की सामूहिक पेंशन का लाभ मिलता है.
  • सरकार की इस स्‍कीम में निवेश कर आप डेढ़ लाख रुपये तक का टैक्स बचा सकते हैं। ये छूट आयकर की धारा 80C के अंतर्गत मिलती है.

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई अटल पेंशन योजना का लाभ 18 साल से ऊपर का कोई भी व्यक्ति उठा सकता है, शर्त यह है कि वह व्यक्ति या आवेदक असंगठित क्षेत्र में काम करने वाला हो और आयकर नहीं भरता हो। अगर आप पत्र श्रेणी में हैं तो सरकार की इस स्कीम में पैसा लगाकर आप अपने बुढ़ापे को सुरक्षित बना सकते हैं.

Leave a Comment

Join TelegramJoin WhatsApp