Latest News

Black Hole Sound: NASA ने जारी किया Black Hole की आवाज का वीडियो, आपने सुना यह आवाज?

Black Hole Sound : बता दे की अंतरिक्ष यानी Space मे NASA के Satellite अलग-अलग ग्रहो के Photos, Videos, तथा अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों को अपने कैमरे मे कैद करके भेजते रहते है.

वही कई Satellite Space कक सबसे बड़े रहस्यमई ‘Black Hole’ की जानकारी को इकट्ठा करने मे लगे है। वही एक Satellite ने ब्लैकहोल के आवाज (Black Hole Sound) को Record कर लिया है.

Black Hole Sound

Black Hole Sound

Black Hole Sound

बता दे की NASA ने इस ब्लैकहोल के आवाज को इंसानी कानों को सुनने योग्य करके अपने Official Twitter Account पर एक ऑडियो जारी किया है. जिस Black Hole की ये आवाज है वह पृथ्वी से 20 करोड़ प्रकाश वर्ष (20 Million Light Years) दूर है। ये 1.1 करोड़ प्रकाश वर्ष की चौड़ाई में फैले पर्सियस आकाशगंगा समूह (Perseus Galaxy Cluster) के केंद्र का हिस्सा है। Black Hole की आवाज की कहानी 2003 से ही चर्चा मे है। ऐसा इस लिए क्योंकि खगोलविदों (Astronomers) ने पाया कि (Black Hole) से निकली दबाव तरंगों ने क्लस्टर (Cluster) की गैसों को गर्म कर दिया।

Black Hole के Sound को ऐसे बदला

इस तरंग को इंसानों के सुनने के लिए ध्वनि तरंग में बदला जा सकता है। एक मनुष्य 57 Octave को नहीं सुन सकते। अब एक नई मशीन के जरिए इन तरंगों में नए नोट्स जोड़े गए हैं, जिनसे एक बेहतर साउंड मिला है।

क्या अंतरिक्ष में सुनाई देता है

ये आवाज पहले की आवाजों से बेहतर है। नासा ने कहा कि सबसे लोकप्रिय गलत धारणा ये है कि अंतरिक्ष में कोई ध्वनि नहीं है

क्योंकि अंतरिक्ष पूरी तरह निर्वात (Vacuum) है और यहां ध्वनि तरंगों को आगे बढ़ने के लिए कोई माध्यम नहीं है। लेकिन वहीं दूसरी तरफ एक आकास गंगा ग्रुप में प्रचुर मात्रा (Abundant) में गैस है.

जिसमें वह हजारों गैलेक्सी को अपने अंदर समा सकती है, ये ध्वनि तरंगों को आगे बढ़ने देते हैं। नासा ने ब्लैक होल की आवाज को Chandra X-ray Observatory से पकड़े थे।

अंतरिक्ष में इंसानों की नग्न तस्वीरें भेजेगा नासा

नासा ने अंतरिक्ष में एलियंस (Aliens) से संपर्क करने के लिए एक नया तरीका खोजा है। नासा ने अंतरिक्ष में इंसानों की नग्न तस्वीरें भेजने का फैसला किया है।

ये एक अपडेट Binary Code Message का हिस्सा है जिसका इस्तेमाल अंतरिक्ष में एलियंस से संपर्क साधने के लिए किया जाएगा। Radio Wave के जरिए इसे अंतरिक्ष में छोड़ा जाएगा।

Leave a Comment

Join TelegramJoin WhatsApp