PF Money Withdraw: पीएफ से पैसे निकलने पर कितना होगा नुकसान

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

PF Money Withdraw: पीएफ से पैसे निकलने पर कितना होगा नुकसान: मोदी सरकार ने वर्ष 2021 से 22 के लिए ईपीएफओ के डिपॉजिट पर 8.1% ब्याज को मंजूरी दी है। ईपीएफओ की ओर से जानकारी देते बताया गया है कि केंद्रीय वित्त मंत्रालय की मंजूरी के बाद सभी ग्राहकों के खातों में जमा किया जाता है। ईपीएफओ ने मार्च के महीने में 2021-22 के वित्तीय वर्ष के लिए 8.5 फीसदी से घटाकर 8.1 फीसदी कर दी थी।

सरकार ने सेवानिवृत्ति कोष निकाय (retirement fund body) के करीब पांच करोड़ अंशधारकों के लिए 2021-22 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) डिपॉजिट पर 8.1 प्रतिशत ब्याज दर को मंजूरी दे दी है, जो चार दशकों में सबसे निचला स्तर है।

हमारे WhatsApp Group से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें : Click Here

बता दें कि वित्त-वर्ष 2020-21 में ईपीएफओ ने 8.50 प्रतिशत ब्याज देने का फैसला किया था। आंकड़ों की बात करें तो कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के वित्त-वर्ष 2022 के लिए पीएफ पर मिलने वाली ब्‍याज दर 40 सालों (चार दशकों) में सबसे कम यानी 8.1 प्रतिशत है। ईपीएफओ में जमा पैसे का 15 प्रतिशत इक्विटी में तो बाकी रकम डेब्ट में निवेश होता है।

अब सरकार ने ईपीएफ या पीएफ से पैसा निकालने के लिए ऑनलाइन सुविधा दी है। ऐसे में कई बार देखा जाता है कि लोग बिना किसी बड़ी जरूरत के अपने पीएफ फंड से पैसा निकाल लेते हैं। इससे उनके रिटायरमेंट फंड को बड़ा नुकसान होता है। अगर आप भी पीएफ फंड से पैसा निकालने का प्लान बना रहे हैं तो इसके लिए आपका यह जानना बहुत जरूरी है कि यहां से पैसा निकलने पर आपके रिटायरमेंट फंड को कितना नुकसान होगा।

हमारे Telegram चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें : Click Here

आप के फंड पर कितना असर पड़ेगा: PF Money Withdraw

अनुमानित कैलकुलेशन के मुताबिक, अगर आपके रिटायरमेंट में 30 साल का समय बाकी है और अभी आप पीएफ अकाउंट से 50 हजार रुपए निकालते हैं तो ​इससे आपके रिटायरमेंट फंड पर 5 लाख 27 हजार रुपए का असर पड़ेगा। यहां जानें कितना पैसा निकालने पर आपने रिटायरमेंट फंड पर कितना असर पडेगा।

कितने पैसे निकालने पर20 साल बाद कितना कम मिलेगा (रु)30 साल बाद कितना कम मिलेगा (रु)
10 हजार50 हजार1 लाख 12 हजार
20 हजार1 लाख2 लाख 25 हजार
50 हजार2 लाख 51 हजार5 लाख 63 हजार
1 लाख5 लाख 02 हजार11 लाख 26 हजार
2 लाख10 लाख 05 हजार22 लाख 53 हजार
3 लाख15 लाख 07 हजार33 लाख 78 हजार

नोट : ये टेबल एक मोटे अनुमान के हिसाब से दी गई है। इसके अलावा यहां जो टेबल बताई गई है उसमें ब्याज की गणना सालाना हिसाब से की गई है।

जब तक बहुत जरूरी न हो पीएफ फंड से न निकालें पैसा: PF Money Withdraw

मनी मैनेजमेंट एक्सपर्ट का मानना है कि जब तक बहुत जरूरी न होने पर PF से पैसे निकालने से बचना चाहिए। इस पर 8.1% की दर से ब्याज मिल रहा है। जितनी बड़ी रकम पीएफ से निकाली जाएगी, रिटायरमेंट फंड पर उतना ही बड़ा असर पड़ेगा।

कितना कटता है पीएफ? PF Money Withdraw

नियमों के मुताबिक, सैलरी पाने वाले लोगों को अपने वेतन और महंगाई भत्ते की 12% रकम पीएफ खाते में योगदान करना अनिवार्य होता है। वहीं कंपनी की ओर से जमा की जाने वाली राशि में से 3.67% ईपीएफ में जमा होता है। बाकी 8.33% हिस्सा कर्मचारी पेंशन योजना (EPS) में जमा हो जाता है।

इन 3 तरीकों से कर सकते हैं पैसों का इंतजाम: PF Money Withdraw

गोल्ड लोन: देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) सहित देश ज्यादातर बैंकों ने पर्सनल गोल्ड लोन की सुविधा शुरू की है। इसके तहत ग्राहक सोना रखकर कर्ज ले सकता है। SBI 7.50 की सालाना ब्याज दर पर 20 लाख रुपए तक का लोन दे रहा है। SBI के अलावा बैंक ऑफ इण्डिया, पंजाब नेशनल बैंक और बैंक बड़ोदा सहित अन्य बैंक भी गोल्ड लोन दे रहे हैं।

फिक्स डिपाजिट पर ले सकते हैं लोन: अगर आपके पास कोई फिक्स्ड डिपॉजिट (एफडी) उस पर लोन ले सकते हैं। इस पर आसानी से और कम ब्याज दर पर लोन मिलना। कई बैंक ऐसे हैं जो एफडी पर 6 फीसदी से भी कम ब्याज पर लोन दे रहे हैं। अगर आप एफडी पर लोन लेते हैं तो आपको फिक्स्ड डिपॉजिट पर मिलने वाले ब्याज से 1-2 फीसदी ज्यादा ब्याज देना होगा। जैसे मान लीजिए की आपकी एफडी पर 4 फीसदी ब्याज मिल रहा है तो आपको 6 फीसदी ब्याज दर पर लोन मिल सकता है। एफडी की वैल्यू का 90 फीसदी तक आप लोन ले सकते हैं। मान लीजिए आपकी एफडी की कीमत 1.5 लाख रुपए है तो आपको 1 लाख 35 हजार रुपए लोन मिल सकता है।

क्रेडिट कार्ड के पर लोन: क्रेडिट कार्ड जारी करने वाली वित्तीय संस्थाएं कार्डधारकों को उनके कार्ड के प्रकार, खर्च और रीपेमेंट के आधार पर कर्ज देते हैं। एक बार एक कार्डधारक इस कर्ज का लाभ उठा लेता है, तो उसकी क्रेडिट सीमा उस राशि से कम हो जाएगी। हालांकि, कुछ कर्जदाता स्वीकृत क्रेडिट सीमा से ज्यादा और क्रेडिट कार्ड के बदले लोन देते हैं। अगर आप भी क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो इस पर लोन ले सकते हैं।

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Leave a Comment

Join TelegramJoin WhatsApp