The Kashmir Files: मुश्किल में फंसी राजस्थान की गहलोत सरकार, कांग्रेस MLA ने ही कर डाली ये मांग

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

The Kashmir Files : ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म को लेकर राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot government) पशोपेश में फंस गई है. देशभर में जहां बीजेपी इस फिल्म को टैक्स फ्री करने की मांग कर रही है वहीं राजस्थान में वरिष्ठ कांग्रेसी विधायक पंडित भंवरलाल शर्मा (MLA Pandit Bhanwarlal Sharma) ने भी यह मांग कर डाली है. शर्मा ने कहा कि वे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर ये मांग करेंगे कि इसे राज्य में टैक्स फ्री करें. बीजेपी नेता राजेंद्र राठौड़ का तर्क है कि घाटी में हिंसा के शिकार होकर पलायन कर आए कश्मीरी पंडित राजस्थान में भी रहते हैं. उनके दर्द पर मरहम के लगाने के लिए इस फिल्म को टैक्स फ्री किया जाना जाहिए ताकि जनता हकीकत जान सके. राजस्थान सरकार ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म को टैक्स फ्री (Tax free) करने से इनकार के बजाय अपनी सफाई दी है. खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रताप खाचरियावास ने सधी हुई सफाई दी कि फिल्म को बिना देखे कोई फैसला नहीं कर सकते हैं.

टेलीग्राम चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें: Click Here

The Kashmir Files

The Kashmir Files

The Kashmir Files

‘द कश्मीर फाइल्स’ (The Kashmir Files) फिल्म को लेकर राजस्थान की कांग्रेस शासित अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot government) मुश्किल में फंस गई है. केरल से लेकर महाराष्ट्र तक कांग्रेस ने इस फिल्म को लेकर जिस तरह के विरोध का रवैया अपना रखा है उसके बाद राजस्थान में गहलोत सरकार इस फिल्म को लेकर पशोपेश में है. संकट सिर्फ यही नहीं कि क्या वे भी केरल कांग्रेस के साथ विरोध में खड़ी हो जाये, बल्कि उससे भी अधिक दिक्कत यह है कि यहां कांग्रेस विधायक ही फिल्म को राज्य में टैक्स फ्री करने की मांग कर रहे हैं. दूसरी तरफ बीजेपी शासित पांच राज्यों में ‘द कश्मीर फाइल्स’ को टैक्स फ्री करने के बाद भाजपा ने राजस्थान में भी इसे टैक्स फ्री करने का दबाब बढ़ा दिया है.

राजस्थान कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक भंवरलाल शर्मा ने मांग की है कि इस फिल्म को टैक्स फ्री किया जाना चाहिए. उन्होंने कहा जिस तरह से कश्मीर में पंडितों के साथ अत्याचार होता आया है उसे ही इस फिल्म में दिखाया गया है. शर्मा ने कहा कि वे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर ये मांग करेंगे कि इसे राज्य में टैक्स फ्री करें. बीजेपी नेता राजेंद्र राठौड़ का तर्क है कि घाटी में हिंसा के शिकार होकर पलायन कर आए कश्मीरी पंडित राजस्थान में भी रहते हैं. उनके दर्द पर मरहम के लगाने के लिए इस फिल्म को टैक्स फ्री किया जाना जाहिए ताकि जनता हकीकत जान सके.

गहलोत सरकार के मंत्री खाचरियावास ने दी यह सफाई

राजस्थान सरकार ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ फिल्म को टैक्स फ्री करने से इनकार के बजाय सफाई दी कि वे फिल्म देखने के बाद फैसला करेगी. खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रताप खाचरियावास ने सधी हुई सफाई दी कि फिल्म को बिना देखे कोई फैसला नहीं कर सकते हैं. हालांकि अभी तक कुछ ही राज्यों में ये फिल्म टैक्स फ्री हुई लेकिन बीजेपी शासित राज्य लगातार टैक्स फ्री कर रहे हैं. बीजेपी इसे मुद्दा भी बना रही है. क्षेत्रीय दलों की सरकार अपने फायदे नुकसान देखकर इस बारे में तय करेंगी. कांग्रेस में कुछ इकाइयों के विरोध और नेताओं के बयान के बावजूद उसकी लाइन अभी तक साफ नहीं है. कांग्रेस को विरोध और समर्थन दोनों का डर है.

सिनेमाघरों में दर्शक लगा रहे हैं जय श्रीराम के नारे

दूसरी ओर सिनेमाघरों में इस फिल्म को देखने के बाद दर्शक जय श्रीराम के नारे लगा रहे हैं. जयपुर के एक सिनेघार में भी दर्शकों ने ऐसे ही नारे लगाए और कश्मीरी पंडितों को इंसाफ की मांग की. देश में कांग्रेस शासित तीन राज्य हैं राजस्थान, छतीसगढ और झारखंड. इन तीन राज्यों की सरकार को तय करना है कि वे इस फिल्म को टैक्स फ्री करना है या नहीं. महाराष्ट्र में कांग्रेस की गठबंधन सरकार है.

महाराष्ट्र में फिल्म को लेकर चल रही है यह राजनीति

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र में बीजेपी नेता रामकदम ने महाराष्ट्र सरकार को चेतावनी दे दी कि अगर ‘द कश्मीर फाइल्स’ टैक्स फ्री नहीं किया तो बीजेपी आंदोलन करेगी. लेकिन महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता सचिन सावंत ने तो आरोप लगाया है कि इतिहास के तथ्यों के साथ छेड़छाड़ कर फिल्म बनाई गई है. केरल कांग्रेस ने तो इस फिल्म के खिलाफ मुहिम शुरू कर दी है. उसने आरोप लगा दिया कि कश्मीर में आंतकियों के शिकार हिंदुओं से अधिक मुस्लिम हुए हैं.

Join WhatsApp Group Join Now
Join Telegram Group Join Now

Leave a Comment

Join TelegramJoin WhatsApp